Friday, August 19, 2005

प्रतिक्रिया

हिन्दी साहित्य पर पहुँचें

5 comments:

kirtikant said...

जिस प्रकार साधारण पकी हुई दाल को शुध्द घी में जीरा; मैथी; लहसुन; और हींग का तड़का लगाया जाता है;तो उसे संस्कारित दाल कहते हैं। घी ; जीरा; लहसुन, मैथी ; हींग आदि सभी महत्वपूर्ण औषधियाँ हैं।
इस वाक्य में लहसुन शब्द का प्रयोग करना अनुचित है।

डॉ॰ व्योम said...

लहसुन का पर्योग किस तरह अनुचित है? लहसुन तो बहुत महत्त्वपूर्ण औषधि है।
-डा० व्योम

Anonymous said...

aapka yeh prayas sarahniya hai. kafi accha laga chapter 1 se 3 tak padhkar. yeh kisi bhi novice ya jise sanskrit nahi aati ke liye kafi aasan tarika hai sanskrit jankar.iske liye aap dhanyawad ke patra hai. kripya aur bhi path aap isme add karen........

Anonymous said...

http://gongfu.com.ua - Visit us or die!

dhara said...

sanskrt to bachpan se pdhi hai,parantu aaj sanskrit ko yog ki dristi se jan ker aisa laga jaise pahli bar sanskrit samajh me aai. ab to mai kam se kam 5,5bhramari aur kapalbhati nitya hi karenge.aapko is bhageerath karya k lie sadhuvad!!